अगर आपके WhatsApp पर भी एमेजॉन के एक सर्वे में भाग लेकर फ्री गिफ्ट जीतने वाला मैसेज आया है तो सावधान हो जाइए क्योंकि ये मैसेज आपको भारी नुकसान करवा सकता है. इससे आपका बैंक अकाउंट खाली होने के साथ-साथ पर्सनल डेटा भी चोरी किया जा सकता है।
आजकल WhatsApp पर बहुत ज्यादा फॉर्वर्ड किए जा रहे मैसेज में लिखा है कि, ”एमेजॉन का 30वां एनवर्सरी सेलिब्रेशन.. सबके लिए फ्री गिफ्ट.” इसके साथ ही इसमें एक URL (https://ccweivip.xyz/amazonhz/tb.php?v=ss1616516) भी दिया गया है, जिसमें दावा किया गया है कि इस लिंक पर क्लिक कर के आप फ्री में ढेर सारे गिफ्ट पा सकते हैं। ऐसा मैसेज आजकल बहुत तेज़ी से वायरल हो रहा है।

सर्वे में मांगी जाएगी आपकी व्यक्तिगत जरूरी जानकारी

यदि आप इस लिंक पर क्लिक करते हैं तो यह आपको एक दूसरे सर्वे पेज पर ले जाएगा। इसमें यूजर्स से कुछ व्यक्तिगत सवाल पूछे जाएंगे जिसमें दावा किया जाएगा कि ये सवाल एमेजॉन की सर्विस को इम्प्रूव करने के लिए हैं। इसमें आपका एज ग्रुप, जेंडर और आप एमेजॉन की सर्विस को कैसे रेट करते हैं, इससे जुड़े सवाल होंगे। इसके अलावा इस सर्वे में यूजर्स से उनके डिवाइस के बारे में भी सवाल पूछा जाता है कि वह एंड्रॉयड फोन इस्तेमाल करते हैं या फिर iPhone, इस पेज पर एक टाइमर भी चलता रहता है जिससे लोगों पर प्रभाव डाला जा सके और वो बिना कुछ जयदा सोच विचार किये फटाफट जरूरी जानकारी दे दें।

Huawei Mate 40 Pro 5G देने का दिया जाता है लालच

सभी सवालों के जवाब देने के बाद यूजर्स के स्क्रीन पर बहुत सारे गिफ्ट बॉक्स आ जाते हैं। इसके बाद सर्वे में भाग लेने वाले पहले 100 लकी विनर्स को Huawei Mate 40 Pro 5G स्मार्टफोन का इनाम देने का दावा किया जाता है। अब यहां से चूना लगाने का खेल शुरू होता है जिसमें यूजर्स को इस क्विज को 5 वॉट्सऐप ग्रुप्स या फिर 20 इंडिविजुअल चैट्स या दोस्तों को भेजने के लिए कहा जाता है। और ये सब करने को बाद भी लोगों को कुछ नहीं मिलता और वो ठगे हुए महसूस करते हैं, यूजर्स को किसी तरह का गिफ्ट नहीं मिलता है और वे पूरी तरह से ट्रैप हो जाते हैं। जिन जिन लोगो को भेज चुके होते हैं आगे वो भी इस ट्रैप में फसना शुरू हो जाते हैं, और ख़ास बात ये है कि इस क्विज में कुछ रेडीमेड कमेंट्स भी पड़े रहते हैं जिसमे गिफ्ट मिलने की बात कही गयी होती है जो जालसाज़ की तरफ से बनाये गए होते हैं, जिसको लोग सच समझ लेते हैं और फंस जाते हैं।

भूल कर भी न करें ऐसी गलती

इस मैसेज के साथ दिए लिंक में जिस तरह से गिफ्ट देने का दावा किया जा रहा है वह पूरी तरह से फेक है और ज्यादातर यूजर्स इसे समझ नहीं पाते हैं और इनके ट्रैप में फंसते जाते हैं। यहां पर हम आपको एक बात बता दें कि कोई भी कंपनी किसी सर्वे के बदले में इस तरह के गिफ्ट नहीं देती है। कोई भी कंपनी बिना किसी फायदे के फूटी कौड़ी भी नहीं देती, इतने महँगे महँगे गिफ्ट देना तो बहुत दूर की बात है। ऐसे स्कैम्स और धोखाधड़ी से बचने के लिए यूआरएल लिंक पर जरूर ध्यान दें। दरअसल ऐसे URL को स्कैमर्स द्वारा तैयार किया जाता है, जिससे आपकी जानकारी को हासिल किया जा सके और बाद में उसका गलत तरीके से इस्तेमाल किया जा सके और बड़े बड़े कम्पनीज को आपके डाटा को बेचा जा सके।
तो सावधान रहें सतर्क रहें ऐसे किसी भी झांसे न आएं जिससे आपकी गोपनीयता खतरे में पड़ जाये।